यहाँ बिना कपड़ों के नहाना पड़ता है | आइसलैण्ड की इस जगह का ये केसा नियम!

सर्वप्रथम लोग जो आइसलैण्ड में रहे थे आयरलैंड के भिक्षु थे। वे लोग लगभग 800 ईस्वी में यहाँ आए थे। आज भी वहां पर रह रहें लोगों का मानना है कि वहां के कुछ स्‍थानों पर छोटे-छोटे कद के (बौने)लोग रहते हैं जिनके पास अविश्‍वसनीय जादुई ताकतें हैं।

Iceland दुनिया की एकमात्र ऐसा देश है जिसके पास कोई भी सेना नही है। Iceland में पुलिस gun नही रखती है क्योंकि यह जुर्म होने की संभावना न के बराबर है।

आइसलैंड की बहुत सी नदियां ऐसी हैं जो ग्लेशियर आइस, ग्रीनस्केप और ज्वालामुखी की राख से होते हुए बहती हैं। अगर आप आकाश से देखें तो ज्वालामुखी की राख से होकर बहती हुई ये नदियां आपको किसी बेहद खूबसूरत डिजिटल आर्ट या काल्पनिक पेंटिंग जैसी दिखेंगी। इसे देखने भी आइसलैंड में दूर-दूर से पर्यटक आते हैं।